Friday, December 24, 2010

पंछी

उड़ान - नेहा


पंछी तू उड़ जा
उड़ जा रे तू पंछी,
हवाओं में उड़ जा
गुफाओं में उड़ जा

उड़ जा...

पंछी तू उड़ जा
उड़ जा रे तू पंछी,
तू जहाँ जाएगा
मै तेरे पीछे पीछे
आऊँगी

पीछे पीछे आऊँगी..

तुझे फिज़ाओं से,
नजारों से ,
गुफाओं की
दीवारों से

फिर वापस ले
आऊँगी ,
उड़ जा पंछी
तू उड़ जा

उड़ जा...

- नेहा

No comments: